Untitled design 5 6

चंडीगढ़ दिनभर: मोदी जी हर बार कुछ अलग अंदाज में जनता से वोट मांगते हैं। वर्ष 2014 में मोदी जी ने सेवक बनकर वोट मांगा ,उसके बाद वर्ष 2019 में चौंकीदार बनकर वोट मांगा और अब भगवान ने भेजा हैं, ,ऐसा कह वोट मांग रहे हैं यानिकी अब वह भगवान बनने की कोशिश कर रहे हैं। यह कहना हैँ कांग्रेस नेता शशि थरूर का । सैक्टर 27 स्थित प्रैसक्लब में प्रैसवार्ता का आयोजन किया गया। इस दौरान कांग्रेस नेता शशि थरूर और छत्तीसगढ़ के पूर्व मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने बीजेपी सरकार पर बड़बोला सरकार करार दिया। कांग्रेस नेता शशि थरूर ने कहा है कि भारत के कई चेक प्वाइंट पर चीन का कब्जा हो गया है और केंद्र सरकार इस पर कुछ नहीं बोलती। अब बदलाव का वक्त आ गया है और 4 जून को दिगी में बदलाव दिखेगा। इस बार देश में बदलाव की हवा चल रही है। वर्तमान मोदी सरकार समानता के विचार के लिए नहीं, बल्कि हिंदी, हिंदुत्व, हिंदुस्तान के नारे के लिए समर्पित है। हिंदू-मुस्लिम की बात प्रधानमंत्री को शोभा नहीं देता। उन्हें जनहित-राष्ट्रहित के मुद्दों पर बात करनी चाहिए। पिछले 10 वर्षों के दौरान देश में बेरोजगारी और महंगाई बढ़ी है। 2014 में सबका साथ-सबका विकास का नारा देकर मोदी सत्ता में आए और नोटबंदी कर बेरोजगारी बढ़ाई। सूक्ष्म व लघु उद्योगों को बंद कराया। शशि थरूर ने कहा है कि मोदी सरकार 400 पार का आकड़ा क्यों चाहती हैं? इसका जवाब हैं क्योकि वह सविधान को बदल देना चाहती हैं। उनके कुछ नेता तो ऐसा बोल भी चुके हैं। थरूर ने कहा मतदाता वास्तविक मुद्दों जैसे बेरोजगारी, महंगाई और सांप्रदायिक नफरत के बारे में अच्छी तरह से जानते हैं। उन्होंने कहा कि लोग धर्म के लिए नहीं बल्कि अपनी देखभाल के लिए सरकार चुनते हैं। अगर मतदाता अपने स्वार्थ के लिए मतदान करेंगे तो वे भाजपा को सत्ता से बाहर कर देंगे। गठबंधन सरकार में पहली बार लोगों को एक ऐसा प्रधानमंत्री मिलेगा, जो आम जनता के लिए सबसे पहले होगा और इंडिया अलायंस के नेतृत्व की गठबंधन सरकार दूसरों की बात सुनेगी।
छत्तीसगढ़ के पूर्व मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने कहा कि मोदी सरकार हमेशा गिराने की बात करती हैं और उसे पूरा करने के लिए सांसद और विधायक को धमकाने से भी पीछे नही हटती। विपक्ष को खत्म करना ही मोदी सरकार का मकसद होता हैं। चुनावो के दौरान सांसद से लेकर विधायक को बीजेपी में शामिल होने के लिए दबाव बनाया जा रहा हैं।