खेल

चंडीगढ़ दिनभर । पीजीजीसी-11 में 68वें वार्षिक खेल महोत्सव का द्वितीय और समापन दिवस मनाया।
कॉलेज का मानना है कि खेल भावना न केवल प्रत्येक छात्र में एथलीट को सामने लाती है बल्कि देश में खेलों के महत्व को आकार और मजबूती भी देती है। दिन की शुरूआत 10,000 मीटर दौड़ के साथ हुई। अमनदीप सिंह भट्टी पीसीएस, निदेशक उच्च शिक्षा, चंडीगढ़ प्रशासन, चंडीगढ़ मुख्य अतिथि थे।
टीमवर्क और खेल जावना के महत्व पर प्रकाश डालते हुए मुख्य अतिथि ने छात्रों से जीवन के मूल्यों को सीखने और उन्हें अपनी सोच में आत्मसात करने का आग्रह किया। उन्होंने कहा कि इस तरह के आयोजन छात्रों को जीवन के सभी क्षेत्रों में सफल होने में मदद करते हैं। कॉलेज की प्राचार्या प्रोफेसर डॉ संगम कपूर ने जोनल, राज्य, राष्ट्रीय और अंतरराष्ट्रीय प्रतियोगिताओं में छात्रों के शानदार प्रदर्शन की सराहना की।