डॉ. तरूण प्रसाद 2023 04 12T103453.523

नगर निगम चंडीगढ़ की हाउस बैठक रही हंगामेदार, पार्षदों ने उठाया पार्किंग घोटाले का मुद्दा

नगर निगम हाउस मीटिंग

चंडीगढ़ दिनभर पार्किंग घोटाले में अब सेंट्रल ब्यूरो ऑफ इन्वेस्टीगेशन (सीबीआई) की एंट्री हो गई है। नगर निगम हाऊस मीटिंग में मेयर अनूप गुप्ता ने बताया कि करीब 3 दिन पहले सीबीआई टीम नगर निगम कार्यालय में पहुंची थी। सीबीआई ने पार्किंग घोटाले से संबधित सभी दस्तावेज अपने कब्जे में लिए हैं। मेयर ने कहा कि जल्द ही चंडीगढ़ प्रशासक बनवारी लाल पुरोहित को पत्र लिख पार्किंग घोटाले की जांच सीबीआई से करवाने की मांग की जाएगी। ताकि निगम के उन आला अधिकारियों के नाम भी सामने आ सके जिन्होंने हरा पेन चला पार्किंग ठेकेदार को निजी फायदा पहुंचाया।
गौरतलब है कि नगर निगम की कमिश्नर आनंदिता मित्रा की ओर से पार्किंग घोटाले में की गई विभागी जांच में सात लोगों को चार्जशीट किया था। इनमें एसडीई जगदीश, सुपरिंटेंडेंट मोनिल चौहान, सुपरिंटेंडेंट सुनील दत, वरिष्ठ सहायक कुलभुषण और पूजा कैंथ, कनिष्ठ सहायक शकुन के अलावा तत्कालीन प्रभारी अधिकारी एचसीएस एसके जैन (सेवानिवृत) शामिल है।
सीबीआई और ईओडब्ल्यू द्वारा इन सभी से पूछताछ की जाएगी। वहीं ईओडब्लयू द्वारा पार्किंग घोटाले में अभी तक 7 आरोपी गिरफ्तार किए जा चुके हैं, जिनमें कंपनी का डायरेक्टर संजय शर्मा, घोटाले का मास्टरमाइंड अनिल शर्मा, अनिल शर्मा का अकाउटैंट अजय कुमार, रवि चंद्र प्रकाश जिसने फर्जी बैंक गांरटी जारी की थी, पाश्चात्य नाम से बनाई गई दूसरी कंपनी का डायरेक्टर विकास पांडे , पाश्चात्य नाम से बनाई गई दूसरी कंपनी का दूसरा डायरैक्टर अशुल मिशरा, टेंडर के लिए कागज तैयार करने वाला करण शर्मा शामिल है।

शहर के कम्युनिटी सेंटरों में नहीं लगेंगे कैमरे

बैठक के दौरान कमिश्नर आनंदिता मित्रा ने स्पष्ट कर दिया कि शहर के किसी भी कम्युनिटी सेंटर में सीसीटीवी कैमरे नहीं लगाए जाएंगे। ऐसा इसलिए क्योंकि निगम के पास सीसीटीवी कैमरे की निगरानी रखने के लिए पर्याप्त स्टाफ नहीं है। सीसीटीवी कैमरे लगाने का मुद्दा सेक्टर-51 में बन रहे कम्युनिटी सेंटर के टैंडर पर उठा। निगम ने सेक्टर-51 में बन रहे कम्युनिटी सेंटर के टैंडर को सप्लीमेंट्री एजेंडा में शामिल किया गया था, जिस पर आप पार्षदों का कहना था कि उन्होंने निगम अधिकारियों से उनके वार्ड में बने कम्युनिटी सेंटरों पर सीसीटीवी कैमरे लगाने की बात कही थी तो उन्होंने कहा था कि ऐसा इसलिए संभव नही है क्योकि सीसीटीवी कैमरे की निगरानी रखने के लिए पर्याप्त स्टॉफ नहीं है। आप पार्षदों का सवाल था कि अब नगर निगम ने सेक्टर 51 में बन रहे कम्युनिटी सेंटर में सीसीटीवी कैमरे लगाने के लिए कैसे तैयार हो गया। उस पर नगर निगम ने कहा कि उनकी नोटिस में लाए बिना सेक्टर 51 में बन रहे कम्युनिटी सेंटर के टैंडर में सीसीटीवी कैमरे लगाने का एजेंडा लाया गया है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *