Press Club Election 2023 7

जालंधर : जालंधर लोकसभा को लेकर मुख्यमंत्री भगवंत मान बेहद गंभीर है। पार्टी अपनी जीती हुई सीट को हर हाल में दोबारा जीतना चाहती है। मुख्यमंत्री भगवंत मान ने रविवार को जालंधर में पार्टी विधायकों और पदाधिकारियों के साथ मीटिंग की और उनके साथ चुनावी रणनीतियों पर चर्चा की। बैठक के दौरान भगवंत मान ने पार्टी विधायकों नेताओं और पदाधिकारियों से ‘आप’ सरकार के दो सालों के लोग हितैषी कार्यों और फैसलों को लोगों के बताने और उसे जोर शोर से प्रचारित करने को कहा।

उन्होंने कहा कि हमारी सरकार ने सिर्फ 2 सालों में इतना काम किया है जितना काम पिछली सरकारों ने पिछले 70 सालों में नहीं किया। इसलिए हमें अपने काम का प्रसार करने की जरूरत है। मान ने कहा कि पहले संगरूर लोकसभा क्षेत्र आम आदमी पार्टी का गढ़ हुआ करता था। अब संगरूर के साथ जालंधर भी जुड़ गया है। अब दोनों सीट हमारे लिए बेहद महत्वपूर्ण है। दोनों पर हमारा विशेष ध्यान है और हमें इसे हर हाल में जीतना है। हमारी पहली प्राथमिकता होनी चाहिए कि जालंधर सीट को हर हाल में जीता जाए। इसके लिए सामूहिक प्रयास बहुत जरूरी है।

‘आप’ के सांसद सुशील रिंकू के पार्टी छोड़ने पर मान ने कहा कि हमें उनपर ध्यान देने की कोई जरूरत नहीं है। उन्होंने पार्टी के साथ गद्दारी की है और गद्दारी करने वाले को जनता चुनाव में जवाब देगी। सुशील रिंकू को आम आदमी पार्टी ने सांसद बनाया और पहचान दिलाई, लेकिन उन्होंने हमारे साथ धोखा किया। उनका कोई व्यक्तिगत जनाधार नहीं है। इस अवसर पर पंजाब के लोकल बाडी मंत्री बलकार सिंह, पूर्व विधायक जगबीर बराड़, विधायक रमन अरोड़ा, चेयरपर्सन राजविंद्र कौर थियाड़ा, चंदन ग्रेवाल, वरिष्ठ ‘आप’ नेता दिनेश ढल्ल, वरिन्द्र ङ्क्षसह सोढी, मंगल सिंह, अमृतपाल सिंह, मोहिन्द्र भगत व अन्य भी मौजूद थे।