डॉ. तरूण प्रसाद 2023 05 30T164033.949

हरियाणा के मुख्यमंत्री ने की बड़ी घोषणा

चंडीगढ़ दिनभर

चंडीगढ़। हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर ने 28 मई को नए संसद भवन के उद्घाटन और इसे संभव बनाने वाले श्रमिकों के सम्मान में उन बच्चों की छात्रवृत्ति में वृद्धि की घोषणा की, जिनके माता-पिता राज्य श्रम कल्याण बोर्ड में पंजीकृत हैं। कक्षा 9 और 10 के लिए 7,000 रुपये, कक्षा 11 और 12 के लिए 7,750 रुपये और उच्च शिक्षा के लिए 8,500 रुपये की छात्रवृत्ति राशि को बढ़ाकर 10,000 रुपये कर दिया गया है। मुख्यमंत्री ने भवन एवं अन्य सन्निर्माण कर्मकार कल्याण बोर्ड के तहत पंजीकृत श्रमिकों और उनके बच्चों से वर्चुअली बातचीत करते हुए कहा कि प्रधानमंत्री के मार्गदर्शन में राज्य भी श्रमिकों को पूरा सम्मान दे रहा है। हर निर्माण में श्रमिकों का महत्वपूर्ण योगदान होता है और श्रमिकों के बल पर ही आज देश आत्मनिर्भर बन रहा है।

बातचीत के दौरान श्रमिकों ने उन्हें लाभ प्रदान करने के साथ-साथ उनके बच्चों को शिक्षा प्रदान करने के लिए मुख्यमंत्री के प्रति आभार व्यक्त किया। मुख्यमंत्री ने कहा कि सरकार का ध्यान केवल संगठित क्षेत्र पर ही नहीं असंगठित क्षेत्र पर भी है। उन्होंने कहा कि आज हरियाणा में लगभग 25 प्रतिशत श्रमिक संगठित क्षेत्र में और 75 प्रतिशत असंगठित क्षेत्र में कार्यरत हैं। उन्होंने कहा, प्रधानमंत्री श्रम योगी मानधन योजना के तहत असंगठित क्षेत्र के श्रमिकों के पंजीकरण में हरियाणा देश में पहले स्थान पर है।

अब तक इस योजना के तहत 8.19 लाख से अधिक लाभार्थी पंजीकृत किए जा चुके हैं। मैं आज श्रमिकों के बच्चों को दी जाने वाली छात्रवृत्ति की राशि में बढ़ोतरी की घोषणा करता हूं। हमने श्रमिकों के जीवन को सरल व सुगम बनाने के लिए कई योजनाएं बनाई हैं। इनमें श्रमिकों की सुरक्षा से लेकर उनके न्यूनतम वेतन, दुर्घटना में बीमा दिलवाना, उनके रहन-सहन तथा उनके बच्चों की शिक्षा हेतु हमने कई छात्रवृत्ति व सम्मान राशि देने की अनेक योजनाएं शामिल हैं।