डॉ. तरूण प्रसाद 2023 04 21T105840.516

चंडीगढ़ दिनभर

चंडीगढ़/फ़तेहगढ़ साहिब। पंजाब पुलिस ने वीरवार को दो व्यक्तियों को गिरफ़्तार किया है। आरोप है कि उन्होंने अधेड़ उम्र की महिला की बलि देने की कोशिश की थी। बता दें कि फतेहगढ़ साहिब के गांव फरौर की महिला बलवीर कौर बुधवार सुबह एक नहर के नज़दीक खेतों में बुरी तरह ज़ख्मी हालत में पड़ी मिली थी। उसे पीजीआई चंडीगढ़ में भर्ती करवाया गया है और हालत खतरे से बाहर है। गौरतलब है कि उक्त दोषियों की तरफ से अमीर बनने की इच्छा रखते हुए जादू-टोने के हिस्से के तौर पर पीडि़त महिला का कत्ल करने की कोशिश की गई थी।

रोपड़ रेंज के इंस्पेक्टर जनरल ऑफ पुलिस गुरप्रीत सिंह भुल्लर ने बताया कि पकड़े गए दोनों मुलजिमों की पहचान कुलदीप सिंह उर्फ कीपा और जसवीर सिंह उर्फ जस्सी, दोनों निवासी गाँव फिरोजपुर, फ़तेहगढ़ साहिब के तौर पर हुई है। पुलिस ने मुलजिमों से एक हीरो डीलक्स मोटरसाईकल (पीबी बी 2187) और हंसिया भी बरामद किया है। आई.जी.पी. गुरप्रीत सिंह भुल्लर ने बताया कि दोनों दोषी सरकस के कलाकार थे और अलग-अलग गांवों में जाकर साइकिल शो करते थे। मुलजिम कीपा और जस्सी की मुलाकात बलवीर कौर के साथ उसके लड़के धर्मप्रीत के द्वारा हुई थी, जिसकी करीब आठ महीने पहले गांव फरौर में शो दौरान दोस्ती हुई थी।

एसएसपी फतहेगढ़ साहिब डॉ. रवजोत कौर ग्रेवाल ने बताया कि दोनों मुलजिम अमीर बनने के इच्छुक थे और एक तांत्रिक के संपर्क में आए, जिसने उनको एक महिला की बलि देने के लिए उकसाया। मुलजिम कीपा और जस्सी ने मंगलवार को बलवीर कौर को तांत्रिक के पास माथा टेकने के बहाने बुलाया और उसका कत्ल करने के लिए उसे गांव फिरोजपुर की एक सुनसान जगह पर ले गए, जहां उन्होंने हंसिये से महिला पर हमला कर दिया, जिस कारण उसकी गर्दन और शरीर के अन्य अंगों पर गंभीर चोटें लगीं। एस.एस.पी. रवजोत कौर ने कहा कि गांव वासियों से मिली जानकारी के उपरांत पुलिस ने तुरंत इस मामले की जांच शुरू कर दी।