Untitled design 4 1

चंडीगढ़ दिनभर। चंडीगढ़ में कांग्रेस को बुधवार को बड़ा झटका लगा है। कांग्रेस पार्टी के पूर्व प्रदेश अध्यक्ष और शहर के दो बार मेयर रहे सुभाष चावला बीजेपी में शामिल हो गए। बीजेपी के प्रदेश अध्यक्ष जतिंदर मल्होत्रा और लोकसभा उम्मीदवार संजय टंडन ने सुभाष चावला की बीजेपी में जॉइनिंग कराई। चावला के साथ-साथ उनके समर्थकों ने भी बीजेपी का दामन थामा है।
सुभाष चावला का बीजेपी में आना पार्टी को लोकसभा चुनाव में फायदा पहुंचाएगा। चावला की राजनीति काफी पुरानी है। वह अनुभावी और मझे हुए नेता हैं और लोगों के बीच उनकी अपनी पहुंच है। साथ ही चावला की छवि एक साफ-सुथरे और शांत नेता की है। सुभाष चावला चंडीगढ़ प्रदेश कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष भी रहे हैं। फरवरी 2021 में प्रदीप छाबड़ा को अध्यक्ष पद से हटाकर सुभाष चावला को ये पद कांग्रेस हाईकमान ने दिया था। हालांकि, सुभाष चावला ने अचानक 11 जून 2022 को अपने पद से इस्तीफा दे दिया था। वहीं चावला के अध्यक्ष पद से इस्तीफा देने को लेकर कई तरह के सवाल उठे थे।
पार्टी में सुभाष चावला की नाराजगी की चर्चाएं चलीं। वहीं अध्यक्ष पद से इस्तीफा देने के बाद चावला को कांग्रेस के लिए उतना सक्रिय नहीं देखा गया। जितना वह पहले सक्रिय रहे। सुभाष चावला चंडीगढ़ प्रदेश यूथ कांग्रेस के भी अध्यक्ष रहे हैं। सुभाष चावला चंडीगढ़ के दो बार मेयर रहे हैं। चावला ने पहली बार 2003 और दूसरी बार 2023 में मेयर पद अपना कार्यकाल पूरा किया। चावला की गिनती चंडीगढ़ के बड़े नेताओं में की जाती है।