डॉ. तरूण प्रसाद 2023 04 21T111252.141

चंडीगढ़ दिनभर

चंडीगढ़। मौसम विभाग की ओर से अत्याधिक गर्मी के संबंध में जारी एडवाइजरी के मद्देनजर मुख्य सचिव संजीव कौशल ने बिजली, स्वास्थ्य, जनस्वास्थ्य अभियांत्रिकी, श्रम और राजस्व विभागों के वरिष्ठ अधिकारियों की मीटिंग में अत्यधिक गर्मी से बचने के उपायों और प्रबंधन पर चर्चा की। उन्होंने कहा कि गर्मियों के लिए बिजली-पानी का पर्याप्त इंतजाम है। इसलिए सरकारी कर्मचारियों और कार्यालयों के समय में कोई बदलाव नहीं किया जाएगा। बिजली विभाग के अधिकारियों ने बताया कि बिजली की कोई कमी नहीं है।
गर्मी में बढ़ती मांग को पूरा करने के लिए कंपनियों ने पहले ही पर्याप्त व्यवस्था कर ली है। जनस्वास्थ्य एवं अभियांत्रिकी और सिंचाई विभाग के अधिकारियों ने पेयजल एवं सिंचाई के लिए पानी की पर्याप्त उपलब्धता की जानकारी सांझा की। मुख्य सचिव ने कहा कि यह निर्णय लिया गया है कि सरकारी कर्मचारियों के कार्यों के घंटों में कोई बदलाव नहीं किया जाएगा। कौशल ने अधिकारियों को निर्देश दिए कि किसानों से आग्रह करें कि वे अपने पशुओं को पर्याप्त पानी पिलाएं और छाया में रखें। दिन के सबसे गर्म हिस्सों में काम करने से बचें। लोगों को हीटवेव के जोखिमों और आवश्यक सावधानी बरतने के महत्व के बारे में शिक्षित करने के लिए जागरूकता अभियान शुरू करने के निर्देश दिए।

मुख्य सचिव ने स्वास्थ्य विभाग को पर्याप्त मात्रा में ओआरएस पैक, आवश्यक दवाएं, आईवी तरल पदार्थ, आइस-पैक, इलेक्ट्रोलाइट आदि के प्रबंधन में सहायता के लिए उपकरण सुनिश्चित करने के निर्देश दिए। विभाग को कूलिंग उपकरणों की पर्याप्त उपलब्धता सुनिश्चित करने को कहा। गर्मी से संबंधित बीमारी के मामलों के शुरुआती प्रबंधन के लिए एम्बुलेंस को आइस पैक और ठंडे पानी से लैस करने के लिए कहा। मानक उपचार प्रोटोकॉल का उपयोग करते हुए संदिग्ध हीट स्ट्रोक के मामलों का तेजी से आंकलन करने के निर्देश दिए। कौशल ने अग्निशमन विभाग के अधिकारियों को प्रतिकूल मौसम की स्थिति के कारण आग की घटनाओं को रोकने के लिए एहतियाती उपाय सुनिश्चित करने के निर्देश दिए।

प्रत्येक सरकारी भवनों, निजी ऊंची इमारतों और फ्लैटों में अग्निशमन यंत्र की व्यवस्था को सुनिश्चित किया जाए। श्रम एवं स्वास्थ्य विभाग को समय-समय पर स्वास्थ्य से संबंधित सलाह जारी करने और आईईसी गतिविधियों की योजना बनाने के निर्देश दिए। ताकि मजदूरों को लू से बचाव के लिए बरती जाने वाली सावधानियों के बारे में जागरूक किया जा सके। मंडियों में संचालन, ईंटभटठों के मजदूरों, निर्माण स्थल, औद्योगिक स्थल तथा लेबर चौक इत्यादि स्थानों पर कार्य कर रहे मजदूरों के लिए एडवाइजरी जारी करने को कहा। बैठक में अतिरिक्त मुख्य सचिव और वित्तीय आयुक्त, राजस्व और आपदा प्रबंधन और चकबंदी विभाग, राजेश खुल्लर, श्रम विभाग के अतिरिक्त मुख्य सचिव राजा शेखर वुंडरू, गृह विभाग के विशेष सचिव महावीर कौशिक, स्वास्थ्य सेवाएं विभाग की महानिदेशक सुश्री सोनिया त्रिखा सहित अन्य विभागों के वरिष्ठ अधिकारी उपस्थित थे।