Untitled design 4 3

पुलिस पर कार्रवाई न करने का आरोप

जीरकपुर। जीरकपुर के निर्मल छाया टावर निवासी सौरव कालरा ने जीरकपुर थाने में शिकायत देकर कहा है कि 18 मई को सिल्वर सिटी सोसाइटी के गेट से गुजरने को लेकर सुरक्षा गार्डों और निवासियों ने मेरे और मेरे भाई के साथ मारपीट की, जिससे उन्हें गंभीर चोटें आईं। उन्हें इलाज के लिए सीएचसी ढकोली में भर्ती कराया गया। सौरव कालरा ने अपनी शिकायत में कहा कि वह डेराबस्सी में अपना कारोबार करता है। 18 मई को दोपहर करीब 12 बजे वह गाड़ी में सवार होकर अपने ऑफिस जा रहा था। जब वह निर्मल छाया टावर से सिल्वर सिटी के गेट से निकलने लगा, तो वहां खड़े सुरक्षा गार्ड ने उनके साथ दुर्व्यवहार किया और कहा कि वह इस रास्ते से नहीं जा सकता।
जब मैने गाड़ी से बाहर निकलकर उससे बात करनी चाही, तो उसने अपने साथ दो अन्य सुरक्षा गार्डों को बुला लिया, जिनके पास लाठियां थीं और उन्होंने मुझे बेरहमी से पीटा। मैंने अपने भाई को बुलाया, जिसने मुझे सुरक्षा गार्डों से बचाया। इसके बाद हम दोनों सोसायटी के गणमान्य लोगों से बात करने गए, जहां हमारी मुलाकात पार्क के पास वरिष्ठ उपाध्यक्ष पृथ्वी राज कुमार से हुई। हम बात करने ही वाले थे कि तभी अध्यक्ष रमनदीप रंधावा और गुरजोत, जिसके हाथ में डंडा था, भी आ गए। आते ही उन्होंने हमारी एक न सुनी और गालियां देने लगे। सोसायटी के अध्यक्ष रमनदीप सिंह रंधावा ने वहां मौजूद लोगों को हमें पीटने के लिए उकसाया, जिसके बाद गुरजोत ने मुझे और मेरे भाई को जान से मारने की नियत से सिर पर डंडे से वार किया और चार-पांच लोगों के साथ मिलकर हमें बेरहमी से पीटा और जान से मारने की धमकी दी। हम वहां से किसी तरह अपनी जान बचाकर ढकोली अस्पताल पहुंचे, जहां इलाज के बाद डॉक्टरों ने हमें छुट्टी दे दी। इसके बाद उन्होंने जीरकपुर थाने में शिकायत दर्ज कराई।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *