डॉ. तरूण प्रसाद 2023 09 09T143050.528

जी-20 सम्मेलन के मध्य से आई एक बड़ी खबर के तहत, देश का नाम इंडिया बनाम भारत के विवाद की खबरें आ रही हैं। प्रधानमंत्री मोदी ने इस सम्मेलन के दौरान अपने टेबल पर रखी कंट्री प्लेट पर ‘भारत’ शब्द का उपयोग किया। इससे पहले ऐसा कभी नहीं हुआ था, क्योंकि अंतरराष्ट्रीय मंचों पर देश का नाम आमतौर पर ‘इंडिया’ होता था।

यह विवाद शुरुआत में 5 सितंबर को हुआ था, जब जी-20 सम्मेलन के दिन आमंत्रण पत्र पर ‘प्रेसिडेंट ऑफ इंडिया’ की जगह ‘प्रेसिडेंट ऑफ भारत’ लिखा गया था। इसके बाद, विपक्ष ने इस पर आरोप लगाया कि मोदी सरकार देश का नाम ‘इंडिया’ की बजाय ‘भारत’ में बदलने की योजना बना रही है। इस विवाद के बाद, संसद में एक विशेष सत्र का आयोजन किया गया है, जिसमें इस मुद्दे पर चर्चा की जाएगी।

कांग्रेस के सीनियर नेता जयराम रमेश ने इस पर आलोचना की और कहा, “ये खबर वाकई सच है। राष्ट्रपति भवन ने 9 सितंबर को जी-20 सम्मेलन के लिए ‘प्रेसिडेंट ऑफ इंडिया’ की जगह ‘प्रेसिडेंट ऑफ भारत’ के नाम पर निमंत्रण भेजा है।”

विपक्ष के इस आलोचना के बावजूद, बीजेपी नेता और असम के मुख्यमंत्री हेमंता बिस्वा सरमा ने सरकार के इस कदम की तारीफ की और समर्थन दिया।

जी-20 सम्मेलन 9 से 10 सितंबर को नई दिल्ली में आयोजित हो रहा है, जिसमें अमेरिकी राष्ट्रपति जो बाइडेन, ब्रिटिश राष्ट्रपति ऋषि सुनक समेत विश्व के महत्वपूर्ण देशों के नेता शामिल हैं। यहां तक कि रूसी राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन और चीनी राष्ट्रपति शी जिनपिंग बैठक में नहीं होंगे।