Press Club Election 2023 7 1

पंजाब के इतिहास में पहली बार ऐसा हुआ है कि कोई गठबंधन न होने पर खुशी मनाई गई है। मंगलवार को भारतीय जनता पार्टी के पंजाब प्रधान सुनील जाखड़ की ओर से ट्विटर पर वीडियो जारी करते हुए कहा कि भाजपा पंजाब में 13 लोकसभा सीटों पर अकेले चुनाव लड़ेगी।

वहीं, जाखड़ के बयान के बाद शहरी भाजपा प्रधान हरविंदर सिंह संधू के नेतृत्व में हरबंस लाल खन्ना स्मारक में कार्यकर्ताओं और नेताओं की बैठक की गई। इसके बाद ढोल की थाप पर भाजपाइयों ने खुशी मनाते हुए एक दूसरे का मुंह मीठा करवाया।

जिला अध्यक्ष हरविंदर संधू और पूर्व राज्यसभा सांसद श्वेत मलिक ने कहा कि भाजपा कार्यकर्ताओं और नेताओं में इस बात की खुशी है कि हाईकमान ने शिरोमणि अकाली दल से गठबंधन न करके अकेले चुनाव लड़ने का फैसला लिया है।
पंजाब प्रधान सुनील जाखड़ की ओर से जिले की टीम के साथ ऑनलाइन एक बैठक की गई है, जिसमें विशेष रूप से कहा गया है कि अब अकाली दल से कोई गठबंधन नहीं होगा। सभी कार्यकर्ताओं और नेताओं को यहां बुलाया गया जहां एक जश्न का माहौल बन गया है।

पंजाब के लोग इस बार भाजपा को पंजाब में एक मौका जरूर देंगे। सभी भाजपा कार्यकर्ताओं और नेताओं को इस बात का डर भी था कि कहीं अकाली दल से गठबंधन न हो जाए, क्योंकि जो मेहनत भाजपा ने पंजाब में लोगों के घर-घर पहुंचकर की है, उसका फायदा कहीं अकाली दल न ले जाए। इस डर से बाहर आने की खुशी में भाजपा खुश है।

गठबंधन न होने पर बीजेपी के कार्यकर्ताओं ने मनाई खुशी, लड्डू बांटे
अकाली दल और बीजेपी का गठबंधन न होने पर तरनतारन में बीजेपी कार्यालय में लड्डू बटकर खुशी मनाई गई है बीजेपी के नेता इस बात से खुश हैं कि शिरोमणि अकाली दल और बीजेपी के बीच कोई गठबंधन नहीं है। तरनतारन बीजेपी कार्यालय में नेताओं ने लड्डू बांटे और एक-दूसरे का मुंह मीठा कराकर खुशी मनाई। तरनतारन के बीजेपी जिला अध्यक्ष हरजीत सिंह संधू ने कहा कि शिरोमणि अकाली दल और बीजेपी के बीच गठबंधन नहीं होने से बीजेपी कार्यकर्ता काफी खुश हैं और वह कमल के फूल पर अकेले चुनाव लड़ेंगे, जिसके अच्छे नतीजे भी आएंगे।
उन्होंने यह भी कहा कि गठबंधन होने पर लोग अब अकाली दल को पसंद नहीं करते हैं तो बीजेपी की वजह से अकाली दल को भी इसका फायदा होता, इसलिए कार्यकर्ता इस बात से खुश हैं कि गठबंधन नहीं हो रहा है और आने वाले लोकसभा चुनाव में बीजेपी को भी इसका फायदा मिलेगा।