Untitled design 1 1

भरत अग्रवाल, चंडीगढ़। वार्ड-17 के पार्षद दमनप्रीत सिंह को मिलना है तो पहुंच जाएं सेक्टर-22 स्थित बूथ मार्केट की कुल्हड़ चाय पर। ऐसा इसलिए क्योंकि वह पार्षद कुछ हटकर है। दिन में निगम ऑफिस में वार्ड की समस्याओं को लेकर अधिकारियों से मिलते हैं। यहां से फ्री होकर अपनी चाय की दुकान पर पहुंचकर लोगों को चाय पिलाते हैं। यहां एक या दो तरह की चाय नहीं, बल्कि 30 तरह की चाय मिलती है, जोकि पार्षद खुद बनाते हैं। पूरे शहर में चर्चा का विष्य बना हुआ हैं। पार्षद को कुकिंग करते देख और झूठे बर्तनों को उठाते देख वीडियो व सेल्फी खींचते आम दिखाई देते हैं। किसी पार्षद की इस सादगी को देख लोग तारीफ करते नहीं थकते। दमनप्रीत सिंह का कहना है कि कुकिंग करना मेरा पैशन है। हर तरह के व्यंजन को बनाने में सक्षम हैं। विवाह से लेकर छोटे फंक्शन तक सभी के व्यंजन वह खुद तैयार करवाते हैं। वहीं, दमनप्रीत सिंह को वार्ड के लोगों से मिलने के बारे में पूछा गया तो कहा कि इसीलिए अपने वार्ड में चाय की दुकान खोली गई। ताकि लोगों को पता हो कि उनका पार्षद यहां मिलेगा। मेरा काम ही मेरी पहचान बन जाएगा, कभी सोचा नहीं था। आज लोग जब मेरे साथ सेल्फी और वीडियो बनाने हैं तो बेहद खुशी होती है। उनके द्वारा की गई तारीफ मेरी ताकत बनती है। मैं राजनीति केवल जनता की सेवा के लिए कर रहा हूं। कुल्हड़ चाय से मेरे घर का गुजारा चलता है। आज मेरा पैशन मेरी पहचान बन चुका है। इसी से परिवार चल रहा है। यदि सिर्फ राजनीति करता तो शायद सिर्फ वार्ड के लोग मुझे पहचानते लेकिन मेरे पैशन ने मेरी पहचान दूर-दूर तक बना दी है।