डॉ. तरूण प्रसाद 4

चंडीगढ़: पंजाब के मुख्यमंत्री भगवंत मान ने शुक्रवार को चंडीगढ़ में 710 पटवारियों को नियुक्ति पत्र सौंपे हैं और उन्हें पंजाब सरकार में शामिल होने के लिए बधाई दी।

सीएम मान ने इस मौके पर कहा, “पटवारी की नौकरी बिना किसी पैसे दिए मिलना तो ऐसे है जैसे समुद्र से आप बिना डुबकी लगाए बाहर आ गए हों। पिछली सरकारों में पटवारी की नौकरी के लिए चढ़ावा चढ़ाया जाता था। पंजाब सरकार ने बिना किसी भेदभाव के नए पटवारियों पर भरोसा किया है। आप लोगों से गुजारिश है कि आप सभी लोग जब भी फील्ड में उतरें, तो ईमानदारी के साथ लोगों की समस्याओं का निवारण करें, क्योंकि आपके एक हस्ताक्षर से आम लोगों की उम्मीदें जुड़ी होंगी।”

वहीं सीएम भगवंत मान ने पटवारियों को ट्रेनिंग पीरियड के दौरान मिलने वाले स्टाईफन को बढ़ाने का भी एलान किया। सीएम ने यह भी कहा कि रेगुलर भर्ती की जाएगी, जैसा कि पुलिस सर्विस में होता है।

पंजाब में कुछ दिन पहले पटवारियों-कानूनगो ने पंजाब सरकार का विरोध करते हुए कलम छोड़ हड़ताल करने का अल्टीमेटम दिया था। जिसके बाद सरकार ने राज्य में एस्मा (ESMA) लगा दिया था।

सीएम भगवंत मान ने टैगोर थियेटर में आयोजित इस कार्यक्रम में 710 पटवारियों को नियुक्ति पत्र सौंपते हुए कहा, “भ्रष्टाचार के कई नाम होते हैं, कभी डोनेशन नाम रख देते हैं, कभी प्रीमियम रख देते हैं। चाय पानी, सेवा, हमारे बारे में सोच लिया करो, सभी इसी के नाम होते हैं। उन्होंने एसएसपी की उदाहरण देते हुए कहा कि कैसे ऊपर से नीचे तक रिश्वत चलती है।

सीएम भगवंत मान ने इस दौरान यह भी कहा कि मोहल्ला क्लिनिक में डाटा इकट्ठा हो रहा है, पंजाब को पंजाब बनाना है, लंदन, केलोफोर्निया बनाने की जरुरत नहीं है