डॉ. तरूण प्रसाद 2023 06 09T124353.641

हरियाणा ऑर्बिटल रेल कॉरिडोर प्रोजेक्ट ने पकड़ी रफ्तार

चंडीगढ़ दिनभर

चंडीगढ़। हरियाणा रेल इंफ्रास्ट्रक्चर डिवलेपमेंट कारपोरेशन के तहत प्रस्तावित बड़े प्रोजेक्टस को स्पीड अप कर दिया है। उप मुख्यमंत्री दुष्यंत चौटाला ने हरियाणा रेल इंफ्रास्ट्रक्चर डिवलेपमेंट कारपोरेशन के प्रमुख प्रोजेक्टस को लेकर संबंधित अधिकारियों की समीक्षा बैठक की। उन्होंने निर्देश दिए कि केंद्र सरकार से संबंधित रेलवे, सडक़ और एविएशन के जो भी कार्य पेंडिंग हैं, उनका फॉलोअप करें ताकि प्रस्तावित प्रोजेक्ट निर्धारित एवं लक्षित अवधि में पूरे हो सकें। हरियाणा रेल इंफ्रास्ट्रक्चर डिवलेपमेंट कारपोरेशन के अधिकारियों ने डिप्टी सीएम को बताया कि हिसार एयरपोर्ट व दिल्ली के इंदिरा गांधी हवाई अड्डे के बीच बिछाई जाने वाली रेलवे लाइन के प्रोजेक्ट के प्रस्ताव को अंतिम रूप दे दिया गया है।

करीब 35 किलोमीटर लंबी इस लाइन पर लगभग 1215 करोड़ की लागत आने की उम्मीद है। डिप्टी सीएम ने हिसार-दिल्ली एयरपोर्ट की कनेक्टिविटी पर फोकस करते हुए कहा कि यह राज्य सरकार का ड्रीम प्रोजेक्ट है। वह इसको जल्द से जल्द पूरा करवाना चाहते हैं। हिसार को एविएशन हब बनाने में सुपर फास्ट रेलवे ट्रैक महत्वपूर्ण कड़ी साबित होगा। यह प्रोजेक्ट पूरा होने पर हिसार व दिल्ली हवाई अड्डे के बीच की दूरी 160 मिनट में तय होगी, जिसको हांसी, रोहतक, झज्जर, फरुखनगर और गढ़ी हसरू होते हुए दिल्ली एयरपोर्ट से जोड़ा जाएगा। इसमें गढ़ी हसरू तक 11 किलोमीटर पहले से मौजूद रेलवे लाइन को डबल लाइन में बदलना प्रस्तावित है।

इसी प्रकार, 24 किलोमीटर नई डबल लाइन फरूखनगर-झज्जर तक, झज्जर रोहतक के बीच 37 किलोमीटर सिंगल लाइन, रोहतक हांसी के बीच सिंगल लाइन 68 किलोमीटर और हांसी से महाराजा अग्रसेन हवाई अड्डा हिसार तक 25 किलोमीटर रेलवे लाइन बननी है। डिप्टी सीएम ने आरबिटल रेल कारिडोर प्रोजेक्ट के बारे में भी अपडेट लिया। अधिकारियों ने बताया कि रेलवे लाइन बिछाने के लिए जमीन उपलब्ध करवाने के काम ने गति पकड़ ली है। इस प्रोजेक्ट की अनुमानित लागत करीब पांच हजार छह सौ करोड़ से अधिक संभावित है। यह पलवल, गुडग़ांव, नूंह, झज्जर होते हुए सोनीपत तक जाएगा। बैठक में कुरूक्षेत्र में एलिवेटिड रोड को लेकर भी अधिकारियों ने प्रगति रिपोर्ट प्रस्तुत की।