डॉ. तरूण प्रसाद 2023 08 02T174052.326

चंडीगढ़ दिनभर

चंडीगढ़ : पंजाब के पूर्व मुख्यमंत्री बेअंत सिंह कत्ल केस के आरोपी जगतार सिंह हवारा की बुड़ैल जेल ब्रेक केस में बुधवार चंडीगढ़ जिला अदालत में वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए पेशी हुई। जिसमें अगली तारिख 11 अगस्त तय की गई है। चंडीगढ़ के मॉडल जेल में सुरंग बनाकर फरार होने के मामले में जगतार सिंह हवारा पर केस चल रहा है हालांकि हवारा इस समय दिल्ली की तिहाड़ जेल में बंद है |

जगतार सिंह हवारा के खिलाफ अदालत में सेशन जज की अदालत में केस चल रहा है इससे पहले 17 जुलाई को इस केस की सुनवाई के दौरान जगतार सिंह हवारा के वकील ने उसे अदालत में शारीरिक तौर पर पेश करने के लिए अर्जी दाखिल की थी मगर अदालत ने इस अर्जी को खारिज करते हुए पेशी वीडियो कॉन्फ्रेसिंग के जरिए पेश होने के लिए कहा।

जगतार सिंह हवारा पर 21 दिसंबर 1992 को चमकौर साहिब में शहीदी दिवस पर जोड़ मेले के दौरान विशेष पुलिस अधिकारी सुनील कुमार की हत्या करने का भी आरोप लगाया गया था हालाकिं फरवरी 2017 में उसे इस आरोप से बरी कर दिया गया था | जगतार सिंह हवारा पर पंजाब के 12वें मुख्यमंत्री बेअंत सिंह की हत्या का केस दर्ज है। 30 अगस्त 1995 को दिलावर सिंह बब्बर द्वारा एक मानक बंब तैयार कर चंडीगढ़ स्थित पंजाब एंड हरियाणा सिविल सैक्ट्रिएट के पास पंजाब के सीएम बेअंत सिंह की बुलेट प्रूफ कार को बम से उड़ा दिया गया था जिसमें 17 लोगों की मौत हो गई थी वर्ष 2007 में चंडीगढ़ जिला अदालत में यह केस चला जिसमें जगतार सिंह हवारा को मौत की सजा सुनाई गई थी।

हवारा इस फैसले के खिलाफ पंजाब एंड हरियाणा हाई कोर्ट में अपील दाखिल की जिसे अक्टूबर 2010 में जिला अदालत द्वारा लिया गया फैसला नहीं बदला गया । जिसके बाद सुप्रीम कोर्ट में भी याचिका दायर कि जहां पर यह मामला अभी भी विचारधीन है | 2004 में हो गया था फरार बेअंत सिंह हत्याकांड के बाद गिरफ्तार हुआ हवारा जनवरी, 2004 में वह अपने साथियों जगतार सिंह तारा, परमजीत सिंह भ्यौरा और एक हत्या मामले में दोषी देवी सिंह के साथ बुड़ैल जेल में 104 फीट गहरी सुरंग बना फरार हो गया था। देवी सिंह को छोड़ तीनों को पकड़ लिया गया था।