ब्लैकमेलिंग

सेक्टर-40 चंडीगढ़ के लड़के ने गर्लफ्रैंड के साथ मिलकर की ब्लैकमेलिंग

  • पंचकूला पुलिस ने सेक्टर 14 थाने में दर्ज की एफआईआर
  • अभी आरोपी पकड़ से बाहर, तलाश जारी

चंडीगढ़ दिनभर

चंडीगढ़ । फेसबुक, इंस्ट्राग्राम और डिजिटल प्लेटफॉर्म में अनजान लोगों को दोस्त बनाने वाले हो जाएं सावधान। क्योंकि आपकी यह लापरवाही जल्द आपको ब्लैकमेलरों के चंगुल में फंसा सकती है। ऐसी लापरवाही करने पर हरियाणा के झज्जर वक्फ बोर्ड के इस्टेट ऑफिसर नूर मोहम्मद ब्लैकमेलिंग का शिकार हुए।
ब्लैकमेलिंग करने वाला चंडीगढ़ के सेक्टर 40 के मकान नंबर 2309 निवासी ऋषभ और उसकी गर्लफ्रेंड देहरादून निवासी सलोनी उर्फ रितु है। पंचकूूला सेक्टर 14 पुलिस स्टेशन में साइबर एक्ट, ब्लैकमेलिंग और अन्य धाराओं के तहत केस दर्ज कर लिया है। हालांकि ब्लैकमेलर अभी पकड़े नहीं गए हैं। दरअसल गजटेड ऑफिसर नूर मोहम्मद ने शिकायत में बताया था कि उसने फेसबुक में सलोनी कश्यप नाम की महिला की फ्रेंड रिक्वेस्ट आई जिसे असेप्ट कर लिया। इसके बाद वह उससे इंस्ट्राग्राम पर भी चेट करने लगी। इस बीच लड़की उसे ब्लैकमेल करने लगी कि उसके पास उनकी अश्लील तस्वीरें है जिसे वह आगे फारवर्ड कर देगी। उस दौरान उनकी तैनाती पंचकूला में थी।

आरोपी लड़की ने अपने ब्वॉयफ्रेंंड ऋषभ के जरिए भी ब्लैकमेल किया। आरोपी उनसे 3.40 लाख मांगने लगे। एक बार आरोपियोंं को 40 हजार नूर मोहम्मद ने दोस्त के जरिए भेजे। आरोपियों ने चंडीगढ़ के सेक्टर-35 में पैसे लिए। फिर पैसों की मांग करने लगे। इसके बाद शिकायत पुलिस को दी गई। पुलिस ने जांच में फोन नंबर के आधार पर सेक्टर 40 निवासी ऋषभ और सलोनी का खुलासा किया। आरोपियों के खिलाफ केस दर्ज कर लिया गया। जांच में यह भी सामने आया कि आरोपी सलोनी का असली नाम रितु है। पुलिस आरोपी की तलाश में जुटी है और जल्द उन्हें गिरफ्तार किया जा सकता है।