Untitled design 2 13

चंडीगढ़ (अजीत झा)। क्राइम ब्रांच और एएनटीएफ की टीम ने एंडडीपीएस मामले में दो घोषित अपराधियों को गिरफ्तार किया है। आरोपियों की पहचान परमिंदर कुमार उर्फ पम्मी और सुरेंद्र सिंह उर्फ गंजू के रूप में हुई। दोनों को जिला अदालत में पेश कर भेजा न्यायिक हिरासत में।
बता दें कि अदालत में उपस्थित न होने के कारण 2015 और 2009 में पीओ घोषित किया गया था। वे केस एफआईआर नंबर 170 17.4.2009 यू/एस 21 एनडीपीएस एक्ट पीएस-39, सीएचडी और केस एफआईआर नंबर 170 दिनांक 6.4.2003 में वांछित थे। यू/एस 21 एनडीपीएस एक्ट पीएस-39, यू.टी., चंडीगढ़। संक्षिप्त तथ्य 17.04.2009 को परमिंदर कुमार उर्फ पम्मी पुत्र स्व. ब्रिज लाल निवासी प्त 485, झामपुर, जिला। मोहाली उम्र 44 वर्ष को पकड़ा गया और उसके कब्जे से 5 ग्राम स्मैक बरामद की गई। उसके खिलाफ मामला एफआईआर नंबर 170 दिनांक 17.4.2009 यू/एस 21 एनडीपीएस एक्ट पीएस-39, च्ड दर्ज किया गया। मुकदमे के दौरान उसे जमानत पर रिहा कर दिया गया, लेकिन मुकदमे के समय अदालत में उपस्थित न होने के कारण 18.11.2015 को जेएमआईसी सुखदप्रीतम की अदालत में उसे पीओ घोषित कर दिया गया। 27.5.2024 को आरोपी को हेड कांस्टेबल दौलत राम ने मलोया से गिरफ्तार किया और न्यायिक हिरासत में भेज दिया।