Police

थाना-11 के एसएचओ जसबीर सिंह ने अपने ही थाने में करवाई डीडीआर दर्ज

चंडीगढ़ दिनभर ।

चंडीगढ़ पुलिस के थानों में हमेशा कम फोर्स की वापसी का मेल गर्माता रहता है, जबकि बार-बार कम दिखने वाले किसे कम लोगों के सामने आता है तो ठीक है, लेकिन फोर्स को पैसे लेकर फरलो भेजा जाता है। यानी कुछ कर्मचारी गायब कर दिए जाते हैं। हालांकि वे कागजों में तो ड्यूटी पर होते हैं और उनकी कोई ड्यूटी नहीं ली जाती।
ऐसा नया मामला अब सामने आया है सेक्टर-11 पुलिस स्टेशन में, जिसमें खुद का एस नोटिस जसबीर सिंह ने अपने ही थाने में डीआईआर डाला है, जिसमें लिखा है कि उनके थाने की मुंशी और चिया मुंशी ने तीन होमगार्ड सीलिंग को फ्री कर दिया था । उनका कोई काम नहीं किया जा रहा था। डीआईआर रिपोर्ट के बाद एस एस विवरणी ने खुद अपने थानेदार को ही जांच के आदेश दिए। हालांकि, वास्तव में क्या और कितना गंभीर था। यह अफसरों से भी छिपा हुआ है और अब तक मुंशी और ची मुंशी के खिलाफ भी कोई कार्रवाई नहीं की गई है। दरअसल सेक्टर 11 पुलिस स्टेशन में 8 मार्च को रात 10.45 मिनट पर डीसीआर नंबर 67 दर्ज हुआ। डी एसआई चरणजीत कौर द्वारा लिखा गया, जिसमें उन्होंने लिखा है कि एस एस जसबीर सिंह ने उन्हें फोन पर इत्तला दिया है कि थाने के मुंशी और चिया मुंशी राजेश ने उन्हें जानकारी के बारे में तीन होमगार्ड सीलिंग को किसी भी शुल्क से मुक्त कर दिया था। डीआईआर में लिखा गया है कि एस लिस्ट के विवरण के अनुसार इस पूरे मामले की जांच एसआई राजिंदर करेंगे और वे जांच करके दो दिन में उन्हें रिपोर्ट सौंपेंगे। सूत्रों की माने तो तिकड़ी होमगार्ड सील के बयान दर्ज हो चुके हैं और अब अधिकारी मामले की जानकारी दिए गए बग ही थाने में मामला कड़ा पुर्द किया जा रहा है, जबकि कायदे के मुताबकि अगर तीन होमगार्ड जवान बिना किसी कर्तव्य के सैलेरी ले गए थे, तो उन पर और मुंशी व चिट्ठा मुंशी पर कार्रवाई जरूरी है और वह तब जब खुद की एस नोटिस ने ही इस संबंध में डी दर्ज करवाई हो।