डॉ. तरूण प्रसाद 5

न्यू दिल्ली: दिल्ली के शाहीन बाग से केरल के कोझिकोड तक दाखिल हुई एक आतंकवादी वारदात के बारे में जानकारियां सामने आ रही हैं, जिसमें दिल्ली के निवासी शाहरुख सैफी को आरोपी माना गया है। नेशनल इंवेस्टिगेशन एजेंसी (NIA) ने इस मामले में चार्जशीट दाखिल की है, जिसमें सैफी को गुनाहगार माना जा रहा है।

आधिकारिक स्रोतों के अनुसार, शाहरुख सैफी ने अपने निवास स्थल से अचानक गायब हो जाने के बाद केरल की ओर ट्रेन से गया था। उसके परिवार वाले उसकी अचानकी गायबी के बारे में चिंतित थे, लेकिन उनके मन में यह शंका थी कि उनका बेटा कुछ आतंकवादी वारदात की योजना बना रहा हो सकता है।

निवास स्थल से दूर जाने के बाद, सैफी ने केरल के कोझिकोड में हुई एक संगीन वारदात में भाग लिया, जिसमें वह कुछ रेलयात्रियों पर पेट्रोल छिड़ककर आग लगा दी थी। NIA के अनुसार, वह इस हादसे को ‘सेल्फ रेडक्लाइज’ करने का इरादा रखता था और इसके बाद दिल्ली के शाहीनबाग में वापस लौटने का प्लान बनाया था।

शाहरुख सैफी ने इस घटना के बाद गिरफ्तार किया गया है और NIA ने उसके खिलाफ चार्जशीट दाखिल की है। वह अब न्यायिक प्रक्रिया के तहत सजा का सामना करेंगे।

इस घटना के पर्दाफाश होने के साथ ही, सुरक्षा एजेंसियों ने आतंकवाद के खिलाफ सख्त कदम उठाने का निर्णय लिया है, और उन्होंने लोगों से सतर्क रहने और संदेहग्रस्त गतिविधियों की सूचना देने की अपील की है।

निवास स्थल से दूर जाने और आतंकवादी गतिविधियों में भाग लेने की योजना बनाने की तरह की आतंकी वारदातों के खिलाफ सतर्क रहना जरूरी है, ताकि ऐसे हादसों को रोका जा सके |