Press Club Election 2023 13

जालंधर: पंजाब में लोकसभा चुनाव को देखते हुए सत्ताधारी आम आदमी पार्टी की नजरें जालंधर सीट को लेकर कुछ बाहरी नेताओं पर टिकी हुई हैं। कुछ नेताओं की बातचीत पंजाब के मुख्यमंत्री भगवंत मान के साथ अंदरखाते चल रही है परन्तु इन नेताओं के नाम अभी गुप्त रखे जा रहे हैं। ‘आप’ सांसद सुशील रिंकू के भाजपा में शामिल हो जाने के बाद पार्टी को जालंधर सीट के लिए नए चेहरे की तलाश है जिनमें एक भाजपा तथा दो अकाली दल के नेता बताए जा रहे हैं। यद्यपि पार्टी के अंदर एक विचार यह भी था कि उसे अपने कैडर का नेता चुनावी मैदान में उतारना चाहिए क्योंकि पहले ही जालंधर लोकसभा सीट के उप-चुनाव में बाहरी उम्मीदवार को लाने का प्रयोग अच्छा नहीं रहा है।

बताया जा रहा है कि एक-दो नेताओं की बैठकें मुख्यमंत्री भगवंत मान के साथ चंडीगढ़ में उनके सरकारी आवास पर हो चुकी हैं। इनमें एक अकाली दल के विधायक का नाम भी सामने आया था। इसी तरह से एक पूर्व विधायक का नाम भी चर्चा में चल रहा है। एक पूर्व सांसद का नाम भी लिया जा रहा है। आम आदमी पार्टी के नेताओं का मानना है कि जालंधर सीट बारे फैसला लेने में अभी कुछ समय लगेगा पर मुख्यमंत्री भगवंत मान ने एक नेता को लेकर अपना मन बनाया हुआ है। अगर बाहरी उम्मीदवार बारे फैसला न हो सका तो उस स्थिति में पार्टी द्वारा एक कैबिनेट मंत्री को आगे किया जा सकता है। कैबिनेट मंत्री उस स्थिति में अंतिम विकल्प होंगे।

इसी तरह से लुधियाना सीट को लेकर पार्टी दुविधा में दिखाई दे रही है क्योंकि अभी तक इस सीट पर भी उम्मीदवार बारे फैसला नहीं हो पाया है। मुख्यमंत्री चाहते हैं कि सभी सीटों पर मजबूत उम्मीदवार चुनावी मैदान में उतारे जाएं। इसलिए लुधियाना सीट को लेकर एक विधायक के नाम पर भी चर्चा चल रही है। होशियारपुर सीट को लेकर फैसला तो पहले ही मुख्यमंत्री ले चुके हैं। अभी फिलहाल उम्मीदवार के नाम की घोषणा होनी बाकी है। गुरदासपुर तथा श्री आनंदपुर साहिब को लेकर भी कई नामों पर मंथन किया जा रहा है। माना जा रहा है कि जल्द ही इन सीटों पर उम्मीदवारों का ऐलान मुख्यमंत्री द्वारा किया जा सकता है।